रीट की तिथि में होगा बदलाव, मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री में होगी वार्ता

रीट को लेकर ये आज अहम् न्यूज़ हो सकती है क्युकी रीट को लेकर परीक्षा दिनाक में बदलाव हो सकता है। क्युकी आज मुख्यमंत्री ( अशोक गेहलोत ) और शिक्षा मंत्री (गोविन्द डोटासरा ) के बिच आज वार्ता होगी।

  • Join Our Whatsapp Group – Join Now
  • Join करे राजस्थान का सबसे बड़ा टेलीग्राम  चैनल – Click Here



सरकार की ईडब्ल्यूएस श्रेणी में दी गई नई छूट व महावीर जयंती की वजह से रीट परीक्षा (REET)की तिथि में बड़ा पेंच फंस गया है। बेरोजगार संगठनों की ओर से भी अब ईडब्ल्यूएस श्रेणी में नए सिरे से आवेदन लेकर परीक्षा कराने की मांग प्रदेश में गूंजने लगी है। फिलहाल राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से 25 अप्रेल को प्रदेशभर में परीक्षा प्रस्तावित है। महावीर जयंती की वजह से भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे, विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया सहित कई विधायक रीट भर्ती की तिथि बदलने की मांग मुख्यमंत्री से कर चुके हैं। सरकार ने अभी तक इस मामले में कोई अधिकृत ऐलान नहीं किया है। इधर, शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने शनिवार को चूरू दौरे के दौरान कहा कि सरकार रीट की तिथि को लेकर जल्द मुख्यमंत्री को पूरी रिपोर्ट देंगे। इसके बाद ही कोई अंतिम फैसला होगा।

..तो आवेदन होंगे 17 लाख पार

सरकार यदि ईडब्ल्यूएस श्रेणी के आवेदकों को घोषणा के मुताबिक आयु सीमा में छूट देती है तो रीट में अभ्यर्थियों की संख्या 17 लाख को भी पार का सकती हैं।


एक सीट पर 51 में टक्कर

इस बार रीट में 16 लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। शिक्षा विभाग ने रीट के जरिए 31 हजार पदों पर भर्ती कराने का ऐलान किया है। ऐसे में एक पद पर 51 से अधिक अभ्यर्थियों के बीच टक्कर होगी। जबकि पिछली भर्ती में यह आंकड़ा 35 का था। इस बार सबसे ज्यादा मारामारी सामाजिक विज्ञान विषय में रहेगी। क्योंकि सरकार ने वाणिज्य संकाय के विद्यार्थियों को भी सामाजिक विज्ञान विषय में शामिल कर लिया है।

बेरोजगारों की यह भी पीड़ा: सिलेबस भी नहीं हो सका पूरा

बीएसटीसी व बीएड के इस साल ही कोर्स पूरा करने वाले सैकड़ों अभ्यर्थियों ने मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री से गुहार लगाई है। बेरोजगारों का कहना है कि पिछले 15 साल में हुई शिक्षक पात्रता परीक्षाओं में इस बार सबसे कम समय मिल रहा है। ऐसे में सिलेबस भी एक बार पूरा नहीं पढ़ सके हैं। इसलिए सरकार को परीक्षा तिथि तीन महीने आगे बढ़ानी चाहिए।

जानिए 25 अप्रेल को परीक्षा के विरोध की 3 बड़ी वजह

  1. जैन समाज का विरोध 25 अप्रेल को महावीर जयंती है। जनप्रतिनिधियों के साथ जैन संगठन भी लगातार इस दिन परीक्षा नहीं कराने की बात कह रहे हैं।
  2. ईडब्ल्यूएस में छूट, कइयों को मिल सकता है मौका
    राज्य सरकार ने बजट में ईडब्ल्यूएस श्रेणी में नई छूट की कई घोषणा की है। अब सामान्य वर्ग के ऐसे अभ्यर्थियों को भी आयु सीमा में छूट मिल सकेगी। ऐसे अभ्यर्थियों की ओर से आवेदन का मौका दिए जाने की मांग की जा रही है।
  3. कोरोना के बढ़ते मरीज व स्कूलों में परीक्षा प्रदेश में मार्च में कोरोना के नए मरीजों की संख्या लगातार बढ़ी है। अप्रेल में स्कूलों में स्थानीय परीक्षाओं का आयोजन भी होना है।



जैन शिक्षण संस्थाओं का विरोध: सेंटर के लिए नहीं देंगे स्कूल

परीक्षा तिथि में बदलाव की मांग को लेकर जैन समाज की ओर से जयपुर सहित कई जिलों में गांधीवादी तरीके से आंदोलन कर सरकार को ज्ञापन दिए जा चुके हैं। प्रदेश के कई जिलों में जैन समाज की ओर से शिक्षण संस्थाओं का भी संचालन किया जाता है। परीक्षा तिथि में बदलाव नहीं होने पर समाज की ज्यादातर शिक्षण संस्थाओं ने रीट भर्ती के लिए परीक्षा केंद्र नहीं देने का ऐलान किया है।

मुख्यमंत्री से चर्चा के बाद कोई निर्णय शिक्षा मंत्री

रीट भर्ती तिथि के संबंध में जैन समाज का ज्ञापन मिला है। मुख्यमंत्री से चर्चा के बाद कोई निर्णय लिया जाएगा। ईडब्ल्यूएस के नए नियमों को लेकर भी चर्चा की जाएगी। इस मुद्दे पर रविवार को मुख्यमंत्री से चर्चा होने की उम्मीद है।

गोविन्द सिंह डोटासरा, शिक्षा मंत्री

  • Join Our Whatsapp Group – Join Now
  • Join करे राजस्थान का सबसे बड़ा टेलीग्राम  चैनल – Click Here




Source link

4 thoughts on “रीट की तिथि में होगा बदलाव, मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री में होगी वार्ता”

  1. Just want to say your article is as astounding. The clearness for your put up is simply
    great and that i can think you’re a professional in this subject.
    Well with your permission allow me to take hold of your RSS feed
    to stay updated with impending post. Thank you a million and please carry on the rewarding work.

    Look at my web-site – delta 8 thc carts

    Reply

Leave a Comment